` टीकाकरण की रफ़्तार हुई सुस्त और डीएम ने नाप दिया टीकाकरण प्रभारी अधिकारी को

टीकाकरण की रफ़्तार हुई सुस्त और डीएम ने नाप दिया टीकाकरण प्रभारी अधिकारी को

डीएम देहरादून ने जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. राजीव दीक्षित को पद से हटाया 

देहरादून। टीकाकरण केंद्रों पर अव्यवस्था की शिकायतों पर जिलाधिकारी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. राजीव दीक्षित को हटा दिया है। वह कोरोना के टीकाकरण के प्रभारी अधिकारी थे। जिलाधिकारी के आदेश पर सीएमओ ने डा. दीक्षित से कार्यभार वापस लेकर डा. सुधीर पांडे को सौंप दिया है।

uttarakhand-news

जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) को डा. राजीव दीक्षित को हटाने के निर्देश दिए थे। इसके बाद सीएमओ ने यह कार्रवाई की। जिलाधिकारी के अनुसार, इस समय जिला प्रशासन के द्वारा  टीकाकरण कार्यों पर खासा जोर दिया जा रहा है। 

अब 18 वर्ष से 44 वर्ष तक की उम्र के व्यक्तियों का टीकाकरण भी तेज किया जा रहा है और यह काम काफी चुनौतीपूर्ण भी है। बताया जा रहा है कि डा. राजीव दीक्षित के नेतृत्व में विभिन्न टीकाकरण केंद्र अपेक्षित मुस्तैदी के साथ काम नहीं कर रहे थे। कुछ जगह टीकाकरण टीम के विलंब से पहुंचने की शिकायत भी मिल रही थी। इसके अलावा कहीं वैक्सीन देरी से पहुंचने, टीकाकरण केंद्रों पर आमजन के बैठने की व्यवस्था और पार्किंग की समस्या भी आ रही थी। 

कुछ टीकाकरण केन्द्र ऐसे स्थानों पर बनाये गए थे , जहाँ पहुंचना अत्यधिक मुश्किल भी हो रहा था | उपरोक्त सभी शिकायतों और अधिकारी की लापरवाही को देखते हुए  जिलाधिकारी ने टीकाकरण प्रभारी को हटाने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को आदेश दिए थे |

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ