` उत्तराखंड मांगे भू- कानून , सोशल मीडिया में भू- कानून को लेकर छिड़ी है जंग

उत्तराखंड मांगे भू- कानून , सोशल मीडिया में भू- कानून को लेकर छिड़ी है जंग

# उत्तराखंड मांगे भू -कानून 

उत्तराखंड में भू - कानून को लेकर सोशल मीडिया पर मानो जंग ही छिड़ गयी हो | आजकल सोशल मीडिया में देखा जा रहा है कि उत्तराखंड निवासी उत्तराखंड में ठीक वैसे ही भू - कानून की मांग कर रहे हैं जैसे कि हिमाचल सरकार द्वारा हिमाचल भू -कानून लागू किया गया है | 

uttarakhand-latest-news-today

उत्तराखंड की सुन्दरता तथा मौसम से आकर्षित होकर बाहरी लोग यहाँ तेजी से भूमि खरीद की जा रही है, जिसकी वजह से राज्य में समाजिक संतुलन बिगड़ता जा रहा है तथा अपराधों की संख्या भी बढती जा रही है |

भू - कानून की मांग को लेकर सोशल मीडिया में आजकल "उत्तराखंड मांगे भू- कानून " हेसटेग (#) तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें कई लोग तेजी से जुड़ भी रहे हैं | उत्तराखंड का प्रत्येक व्यक्ति चाहता है कि इस राज्य में भी हिमाचल के जैसा भू कानून लागू हो |

क्या है हिमाचल  भू - कानून ?

हिमाचल भू- कानून के अनुसार कोई बाहरी नागरिक हिमाचल की भूमि को किसी भी स्थिति में नहीं खरीद सकता है | हिमाचल में भूमि खरीदने के लिए उसे हिमाचल का स्थाई निवासी होना आवश्यक है | हिमाचल भू- कानून के अनुसार यदि किसी भूमि का वारिस नहीं बचता है तो उसे हिमाचल सरकार द्वारा अपने अधिपत्य में ले लिया जाता है |

हिमाचल में भूमि के मालिक को यूनिक लैंड आइडेंटिफिकेशन ( यूएलआड़ी ) नम्बर दिया जाता है, जिसमे उसकी जमीन का सारा ब्यौरा रजिस्टर होता है | इस तरह हिमाचल सरकार के पास प्रत्येक व्यक्ति की भूमि का रिकॉर्ड होता है |

हिमाचल में लागू भू- कानून की वजह से यहाँ भूमि सम्बंधित क्राइम बहुत कम देखने को मिलते हैं और साथ ही साथ यहाँ पर आवादी में भी नियंत्रण होता है |

उपरोक्त प्रकार के क़ानून की मांग अब उत्तराखंड वासियों द्वारा भी की जा रही है ताकि बाहरी लोग आकर उत्तराखंड राज्य की भूमि को ना खरीद पायें | इसी मांग को लेकर आजकल सोशल मीडिया में ऐसा माहोल देखने को मिल रहा है मानो उत्तराखंड में भू - कानून को लेकर जंग ही छिड़ गयी हो |

# उत्तराखंड_मांगे_भू_कानून  

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ