` हरिद्वार में बनाया जा रहा था नकली पनीर, एसटीएफ और स्वास्थ्य विभाग ने मारा छापा

हरिद्वार में बनाया जा रहा था नकली पनीर, एसटीएफ और स्वास्थ्य विभाग ने मारा छापा

नकली पनीर बनाने की फैक्ट्री का एसटीएफ और स्वास्थ्य विभाग की रेड पर हुआ खुलासा 

उत्तराखंड एसटीएफ को विशेष सूत्रों से जानकारी मिली थी कि ग्राम एकड़ खुर्द थाना पथरी जनपद हरिद्वार में एक बन्द घर में पनीर और रसगुल्ला बनाने की फैक्ट्री अवैध रूप से संचालित की जा रही है। जिसमें बिना लाइसेंस के एवं निर्धारित मानकों के विपरीत पनीर और रसगुल्ला बनाए जा रहे हैं और  संभावना है कि कोई ऐसा पदार्थ मिलाया जा रहा है जिससे आम जनमानस के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। साथ ही जनहानि होने की पूरी संभावना है। 

उत्तराखंड- समाचार

इसके अतिरिक्त बनाए गए पनीर एवं रसगुल्ला को किसी भी ब्रांड का नाम भी नहीं दिया गया है, मिठाई के डिब्बों को पैक करके स्थानीय देहात गांव में सप्लाई किया जा रहा है। 

जनता के स्वाथ्य को ध्यान में रखते हुए  इस सवेंदनशील सूचना पर उत्तराखंड की एसटीएफ द्वारा ग्राम एकड़ खुर्द में जाकर इस फैक्ट्री में छापा मारा गया, जहाँ पर दो व्यक्ति काफी भारी मात्रा में पनीर और रसगुल्ले बनाते हुए मौके पर मिले, इन व्यक्तियों से पनीर और रसगुल्लो में प्रयोग किए जाने वाले पदार्थों की जानकारी मांगी गई तो किसी प्रकार से समुचित जानकारी नहीं दे पाए। 

इस पर एसटीएफ द्वारा फूड इंस्पेक्टर संजय मिश्रा को फैक्टरी में खाद्य पदार्थों की जानकारी प्राप्त करने  एवं संबंधित व्यक्ति का लाइसेंस तथा अन्य कागजात चेक करने हेतु बुलाया गया। 

मौके पर काफी बोरों में आरारोट पाउडर एवं सोफेलाइट के बैग प्राप्त हुए, जिसके संबंध में फैक्ट्री संचालक इखलाख पुत्र यासीन निवासी अकड़ खुर्द थाना पथरी द्वारा बताया कि वह इन पदार्थों का उपयोग रसगुल्ला एवं पनीर बनाने में करता है मौके पर पाए गए पनीर एवं रसगुल्ले का सैंपल फूड इंस्पेक्टर संजय मिश्रा द्वारा ले लिया गया है। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ