` पुलिस कि वर्दी के पीछे छुपे हुए थे नशे के कारोबारी, 8 किलो चरस के साथ गिरफ्तार

पुलिस कि वर्दी के पीछे छुपे हुए थे नशे के कारोबारी, 8 किलो चरस के साथ गिरफ्तार

 नशे के कारोबारी पुलिसकर्मी हुए  नौकरी से बर्खास्त 

बड़े ही शर्म की बात है की दो पुलिसकर्मी वर्दी कि आड़ में नशे का कारोबार कर रहे थे  | उत्तराखंड राज्य  के डीजीपी श्री अशोक कुमार जी  ने नशे का कारोबार करते हुए पकड़े गए दोनों पुलिसकर्मियों को पुलिस की नौकरी से बर्खास्त कर दिया है। डीजीपी ने साफ तौर पर कहा कि भविष्य में भी अगर इस तरीके से अपराधिक गतिविधियों में पुलिसकर्मी सम्मिलित होंगे तो उनके लिए पुलिस फोर्स में कोई जगह नहीं होगी। 

uttarakhand-news

एक बार फिर से हुई वर्दी शर्मशार, पुलिसकर्मी 8 किलो चरस के साथ हुए गिरफ्तार 

चम्पावत जिले के निवासी दो सिपाही उधमसिंह नगर के किच्छा में आठ किलो चरस के साथ गिरफ्तार हुए। इनमें एक सिपाही चम्पावत कोतवाली और  दूसरा पिथौरागढ़ में तैनात है। मूल रूप से दोनों सिपाही  चम्पावत जिले के रहने वाले हैं । 

चम्पावत कोतवाली में तैनात सिपाही प्रदीप फर्त्याल लंबे समय से चरस तस्करी का गिरोह चला रहा था। वर्दी की आड़ में वह चम्पावत से सस्ते दामों में चरस खरीदकर उधमसिंह नगर समेत अन्य जिलों  में तस्करी में जुटा हुआ था। एसपी रुद्रपुर ममता वोहरा ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने सरगना सिपाही प्रदीप फर्त्याल,  पिथौरागढ़ के सिपाही प्रभात बिष्ट समेत अन्य को गिरफ्तार किया है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ