` साइबर अपराधों को रोकने के लिए प्रारम्भ किया गया ई- सुरक्षा चक्र

साइबर अपराधों को रोकने के लिए प्रारम्भ किया गया ई- सुरक्षा चक्र

अब नहीं होंगे साइबर अपराध, उत्तराखंड पुलिस ने करी साइबर क्राइम हेल्पलाइन नम्बर की शुरुआत

देहरादून। आम जनमानस में साइबर अपराध के प्रति जागरूकता प्रदान करने तथा उनसे बचने  के उद्देश्य से उत्तराखंड पुलिस द्वारा ई सुरक्षा चक्र तैयार किया गया है | प्रदेश में साइबर सुरक्षा के तहत ई-सुरक्षा चक्र हेल्पलाइन की शुरूआत हो गई है। नरेंद्रनगर से सीएम तीरथ सिंह रावत ने ऑनलाइन योजना का उद्घाटन किया। इसके तहत एक हेल्पलाइन नंबर 155260 और मोबाइल एप्लीकेशन को लांच किया गया है। 

uttarakhand-news

इस हेल्पलाइन नंबर का इस्तमाल करके कोई भी व्यक्ति खुद के साथ हुई ठगी की शिकायत कर सकेगा। पुलिस का फोकस लोगों के ठगे गए धन को वापस दिलाने पर रहेगा। 

साइबर थाने के इस कंट्रोल रूम सिस्टम को पुलिस कंट्रोल रूम डायल 112 के साथ जोड़ने की भी योजना पर विचार किया जा रहा है। यह काम जागरूकता के साथ-साथ शिकायतों को फॉरवर्ड करने के लिए भी किया जाएगा।

हेल्पलाइन नम्बर = 155260 

क्या है e- सुरक्षा चक्र ?

उत्तराखंड राज्य में बढ़ते साइबर अपराधों कि रोकथाम एवं अनावरण के लिए वर्ष 2017 में e -सुरक्षा चक्र प्रारम्भ किया गया था | इसके अन्तर्गत मार्च 2021 में पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड द्वारा पुलिस कि साइबर नीति जारी कि गयी | 

uttarakhand-samachar


इस नीति के तहत राज्य नोडल  तीन स्तरीय संरचना में, जिला और स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर साइबर अपराधों की प्रभावी रोकथाम के लिए काम करेगी | ई सुरक्षा चक्र मिशन का मुख्य उद्देश्य तथा केन्द्र बिंदु  पीड़ित को तत्काल धन राहत प्रदान करना रहेगा |

कैसे करें साइबर अपराध कि सूचना दर्ज  ?

  • साइबर अपराध कि सूचना तथा शिकायत दर्ज करने के लिए हेल्पलाइन नम्बर 155260 पर 24X7 कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं |
  • नजदीकी साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन ( देहरादून / रुद्रपुर ) से व्यक्तिगत रूप से अथवा ईमेल आईडी ccps-deh@uttarakhandpolice.uk.gov.in के माध्यम से किसी भी समय संपर्क कर सकते हैं |
  • गृह मंत्रालय के NCRP पोर्टल www.cybercrime.gov.in पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं |

 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ