` PANGOT (पंगोट) - नैनीताल के समीप एक ऐसा पर्यटक स्थल जो बहुत खुबसूरत है किन्तु पर्यटकों से अनजान है

PANGOT (पंगोट) - नैनीताल के समीप एक ऐसा पर्यटक स्थल जो बहुत खुबसूरत है किन्तु पर्यटकों से अनजान है

camping in pangot

 

नैनीताल के बारे में तो प्रत्येक पर्यटक जानता ही होगा किन्तु आज हम बात करने वाले हैं नैनीताल के पास एक ऐसे स्थान के बारे में जो बहुत ही ज्यादा खुबसूरत तथा शांत है | नैनीताल के समीप मात्र 15 किलोमीटर की दूरी पर एक छोटा सा गाँव है जिसे पंगोट के नाम से जाना जाता है (Pangot from Nainital) | आज के लेख में हम आपको जानकारी देने वाले हैं कि पंगोट में ऐसा क्या है जिसकी बजह से आजकल इसे बहुत पसंद किया जा रहा है |

PANGOT IN NAINITAL (पंगोट,नैनीताल)

समुद्रतल से लगभग 6300 फीट की ऊँचाई पर स्थित पंगोट नामक गाँव नैनीताल से मात्र 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है जो कि अपनी प्राकृतिक सुन्दरता की बजह से पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा है | भ्रमण के लिए नैनीताल आने वाला प्रत्येक पर्यटक पंगोट जाकर वहां की सुन्दरता को देखना चाहता है | यहाँ स्थित सोनानदी वन्यजीव अभ्यारण में पक्षियों की लगभग 500 से अधिक प्रजातियाँ पायी जाती हैं, जिनकी खूबसूरती देखने के लिए पक्षी प्रेमी देश-विदेश से इस स्थान पर पहुँचते हैं |

PANGOT CAMPING - पंगोट में होने वाली कैम्पिंग को पर्यटकों द्वारा किया जा रहा है पसन्द

आज के समय में अपनी व्यस्त जीवन में से थोडा सा समय निकालकर प्रत्येक मनुष्य घर से बाहर निकलकर चैन के कुछ पल बिताना चाहता है, किन्तु जब वह घर से बाहर भ्रमण के लिए निकलता है तो वह देखता है कि सभी पर्यटन स्थलों में भीडभाड का माहोल है और होटल इत्यादियों में भी उसे सुकून के दो पल नहीं मिल पाते हैं | इसी समस्या को देखते हुए यह लेख लिखा जा रहा है और इस लेख में इस समस्या के समाधान से सम्बंधित जानकारी दी जा रही है |

नैनीताल के समीप पंगोट नामक एक ऐसा गाँव है जहाँ स्थानीय निवासियों द्वारा पर्यटकों के लिए कैम्पिंग की व्यवस्था की जाती है, जिसमे पर्यटक की सभी सुविधाओं का खयाल रखा जाता है | ये सभी कैंप प्राकृतिक वादियों के बीचोबीच शोरगुल से बहुत दूर शांत इलाकों पर लगाये जाते हैं, जिनमे पर्यटकों को किसी भी प्रकार की अशांति देखने को नहीं मिलती है |

मुख्यतः ये सभी कैंप ऐसी जगह लगाये जाते हैं जहाँ से आप प्राकृतिक सुन्दरता का आनन्द ले सकें | पर्यटकों के विचारों के आधार पर यह कहना उचित होगा कि आजकल पर्यटक होटल तथा होमस्टे से ज्यादा कैम्पों पर रुकना पसंद कर रहे हैं |

पक्षी प्रेमियों के लिए किसी जन्नत से कम नहीं है पंगोट 

यदि आप पक्षी प्रेमी हैं तो यह स्थान आपको किसी जन्नत से कम नहीं लगेगा क्योंकि यहाँ पर लगभग 250 प्रकार की पक्षियों की प्रजातियों को देखा जा सकता है, यहाँ पायी जाने वाली पक्षियों की तस्वीरों को लेने के लिए देश-विदेश के पर्यटक इस छोटे से गाँव में आकर निवास करते हैं | इस गाँव में पक्षियों की कई प्रजातियाँ जैसे ग्रिफौन, लैमरगियर्स, नीले पंख वाले मिनला, रयुफस बेली वुडपीकर (कठफोड़वा) इत्यादी को देखा जा सकता है| यहाँ जाते समय आप नैनीपीक,स्नोव्यू, किलबरी तथा नैनीताल का सुन्दर नजारा देख सकते हैं |

PANGOT FROM NAINITAL (नैनीताल से पंगोट कैसे जाएँ) ?

पंगोट जाने के लिए आपको नैनीताल हाई कोर्ट होते हुए नैनीताल में स्थित सूखाताल से गुजरते हुए किलबरी रोड में जाना होगा | किलबरी रोड में लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर ही छोटा सा गाँव पंगोट स्थित है | हमारे पाठकों के लिए यह सलाह है कि वहां जाने से पहले आप अपने कैंप की बुकिंग पहले से ही करा लें ताकि आपको वहां पहुंचकर किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े | पंगोट जाते समय आप नैनीताल की सुन्दर वादियों तथा हिमालय का सुन्दर नजारा देख सकते हैं |

Route Map of Pangot from Nainital

Nainital (Parking) -  High court - Sukha tal - Cave garden (आप यहाँ घूमकर आगे जा सकते हैं) - Himalaya Darshan (kilbari road)  - Pangot 

उम्मीद करते हैं कि उत्तराखंड सामान्य ज्ञान का Pangot , Nainital से सम्बंधित यह लेख आपको पसंद आया होगा, यदि आप चाहते हैं कि आपके मित्र भी यह जानकारी प्राप्त कर सकें तो इस लेख को अधिक से अधिक शेयर कीजिये | शेयर करने के लिए आप सोशल मीडिया जैसे facebook, instagram, twitter इत्यादि का प्रयोग भी कर सकते हैं |

धन्यवाद

🔗 Facebook

🔗 Instagram

Pangot Nainital Images


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां