` One Nation One Ration Card – वन नेशन वन राशन कार्ड योजना में उत्तराखंड भी हुआ शामिल

One Nation One Ration Card – वन नेशन वन राशन कार्ड योजना में उत्तराखंड भी हुआ शामिल

 केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान के द्वारा घोषणा के अनुसार 1 अगस्त 2020 से उत्तराखंड राज्य में भी वन नेशन वन राशन कार्ड योजना लागू कर दी गयी है, जिसके अन्तर्गत उत्तराखंड के लोग तथा मजदूर जो गरीबी रेखा से नीचे आतें हैं, इस योजना का लाभ उठा सकेंगे |

उत्तराखंड राज्य के अलावा तीन अन्य राज्यों मणिपुर,नागालैण्ड तथा केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में भी यह योजना साथ में ही लागू की गयी है | इन चारों राज्यों को मिलाकर इस योजना के अन्तर्गत देश के कुल 24 राज्य शामिल हो चुके हैं , तथा मार्च 2021 तक देश के अन्य राज्य भी इस योजना के दायरे में आ जायेंगे, इससे भारत के 100 फीसदी लोग जो गरीबी रेखा से नीचे आते हैं, इस योजना का फायेदा उठा पायेंगे |

रास्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत आने वाले कुल लाभार्थियों में से 80 प्रतिशत या लगभग 65 करोड़ लाभार्थी इन 24 राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों में कही पर भी सब्सिडी वाला राशन प्राप्त कर सकते हैं | केंद्र सरकार का उद्देश्य 100 प्रतिशत लाभार्थियों को इस योजना के अन्तर्गत लाभ दिलाना है, जिसके लिए मार्च 2021 तक की समय सीमा तय करी गयी है | 

One Nation One Ration Card

क्या है वन नेशन वन राशन कार्ड योजना ?

केंद्र सरकार द्वारा लागू की गयी वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत सम्पूर्ण देश में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले मजदूर देश के किसी भी राज्य में एक ही राशन कार्ड से राशन की दुकानों से सब्सिडी आधारित अनाज उचित दाम पर प्राप्त कर सकेंगे |

पहले मजदूर का जिस राज्य में राशन कार्ड होता था, वह उसी राज्य से राशन ले सकता था | यदि वह मजदूरी के लिए किसी अन्य राज्य में पलायन करता था, तब वह अपने राशन कार्ड से उस नए राज्य में राशन लेने में असमर्थ रहता था, किन्तु अब ऐसा नहीं है | इस योजना के तहत यदि उसका राशन कार्ड आधार से लिंक है, तो वह अपने पुराने राशन कार्ड से ही किसी भी राज्य में राशन प्राप्त कर सकता है | नए राशन कार्ड नए फॉरमेट में बनाये जा रहे हैं, किन्तु यदि आपके पास पुराना राशन कार्ड भी है, और वह आधार से लिंक है, तो भी आप वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत किसी भी राज्य से राशन प्राप्त कर सकते हैं |

यह योजना वर्तमान में देश के 24 राज्यों में लागू की जा चुकी है | वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को वर्ष 2019 में 4 राज्यों में केन्द्रीय  मंत्री राम विलास पासवान द्वारा प्रारंभ किया गया था |

वन नेशन वन राशन कार्ड स्कीम के उद्देश्य

  1. वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को लागू करने का मुख्य उद्देश्य तथा मकसद यह सुनिश्चित करना है, कि कोई भी गरीब व्यक्ति सब्सिडी आधारित अनाज से वंचित न रहे | 
  2. इस योजना का उद्देश्य गरीबी रेखा के नीचे आने वाले मजदूरों को किसी भी राज्य में पर्याप्त दरों पर राशन उपलब्ध करना है | 
  3. इस योजना की मदद से देश में बन रहे फर्जी राशन कार्ड की बजह से हो रहे भ्रष्टाचार को भी काफी हद तक रोका जा सकेगा | 
  4. केंद्र सरकार का उद्देश्य है कि जल्द से जल्द पूरे देश के विभिन्न राज्यों में वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को प्रारम्भ कर सके |

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के लाभ

  1. रोजगार की तलाश में एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने वाले लोग एक रास्ट्र एक राशन कार्ड योजना का लाभ उठा सकते हैं | 
  2. प्रत्येक उपभोक्ता एक ही राशन कार्ड की मदद से किसी भी राज्य में अपने लिए उचित दाम पर राशन खरीद सकता है | 
  3. यदि किसी मजदूर का परिवार एक राज्य में तथा वह मजदूर खुद दूसरे राज्य में रोजगार के लिए गया है, तो वह अपने हिस्से का राशन उसी राज्य से खरीद सकेगा जिस राज्य में वह रोजगार के लिए गया है | 
  4. इस योजना के तहत उस प्रत्येक मजदूर को लाभ होगा, जिसे राशन कार्ड (उस राज्य का राशन कार्ड जहाँ वह मजदूरी के लिए आया है) न होने के कारण राशन की सुविधा उपलब्ध नहीं हो पाती थी | 
  5. इस योजना के चलते सरकार को भी लाभ होगा, क्योंकि इस योजना के बाद पीडीएस (सार्वजनिक वितरण प्रणाली) की दुकानों पर कालाबाजारी कम हो जाएगी | लाभार्थी के अनुपस्थित होने की बजह से पीडीएस दुकान के मालिक खाद्यान को बाजार में अच्छे दाम पर बेच देते थे | जिसका लाभ लाभार्थी को ना होकर दूकानदार को होता था |

Note :

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के अन्तर्गत राशन प्राप्त करने की सुविधा PDS (सार्वजनिक वितरण प्रणाली) की उन राशन की दुकानों पर ले सकते हैं, जहाँ पर POS (point of sale) मशीन उपलब्ध होंगी | देश भर में PDS की लगभग 77 प्रतिशत दुकानों में point of sale मशीने हैं, तथा जिन दुकानों पर यह मशीने नहीं हैं, वहां पर जल्द ही केंद्र सरकार द्वारा मशीनों की व्यवस्था कर दी जाएगी |

Eligibility for the One Nation One Ration Card Scheme

वह सभी लोग तथा मजदूर जो गरीबी रेखा के नीचे आते हैं, वे सभी वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत किसी भी राज्य से (जहाँ वर्तमान में योजना लागू है ) सब्सिडी आधारित दाम पर राशन प्राप्त कर सकते हैं |

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना से सम्बंधित जानकारी कैसे प्राप्त करें ? (Toll Free Number)

केंद्र सरकार के द्वारा वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के अन्तर्गत लोगों की समस्याओं के समाधान हेतु एक टोल फ्री नम्बर  (14445) जारी किया गया है | इस नम्बर में फ्री कॉल करके इस योजना से सम्बंधित जानकारी प्राप्त की जा सकती है |

यदि किसी व्यक्ति को इस योजना के अन्तर्गत किसी भी प्रकार की परेशानी होती है, और वह अधिकारिओं को शिकायत करना चाहता है, तो भी इस टोल फ्री नम्बर में कॉल करके अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है |

Toll Free Number – 14445  

उम्मीद करते हैं कि “उत्तराखंड सामान्य ज्ञान” की यह पोस्ट आपको पसनद आई होगी | यदि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई, तो हमसे जुड़े रहने के लिए हमारे Facebook पेज को like कीजिये |

Facebook Page Link

यदि आप उत्तराखंड की मनमोहक तस्वीरें देखना चाहते हैं, तो हमारे Instagram पेज को follow कीजिये |

Instagram Link

धन्यवाद

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां