` Tehri Dam – विश्व का पांचवा सबसे ऊँचा तथा भारत का सबसे ऊँचा बांध

Tehri Dam – विश्व का पांचवा सबसे ऊँचा तथा भारत का सबसे ऊँचा बांध

"उत्तराखंड सामान्य ज्ञान" की आज की पोस्ट में उत्तराखंड में स्थित टिहरी गढ़वाल जिले के आकर्षण के केंद्र जो कि एक पर्यटन स्थल है के बारे में बताने जा रहे हैं | यदि आप टिहरी बाँध से जुडी सभी जानकारी चाहते हैं टू इस पोस्ट को अंत तक पढ़िए |


विश्व का पांचवा सबसे ऊँचा तथा भारत का सबसे ऊँचा बांध (Tehri Dam)

उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जिले में विश्व का पांचवा सबसे ऊँचा तथा भारत का सबसे ऊँचा बाँध (Tehri Dam) स्थित है , जिसकी ऊँचाई 260.5 मीटर है | टिहरी बांध का निर्माण सन 1978 में प्रारंभ हो गया था तथा 29 अक्टूबर 2005 को सम्पूर्ण टिहरी नगर डैम में विलीन हो गया | टिहरी डैम का सुभारम्भ 2006 में किया गया | जहाँ पर यह बांध बनाया गया है वहां पर बहुत सारे गाँव हुआ करते थे जिनको वहां से हटाकर दूसरी जगह स्थानांतरित किया गया था | पुरानी टिहरी से 24 किलोमीटर दक्षिण में अर्थात ऋषिकेश से लगभग 60 किलोमीटर की दूरी पर नयी टिहरी का निर्माण किया गया है | नयी टिहरी को बहुत ही ख़ूबसूरत रूप दिया गया है | पुरानी टिहरी से लोग स्थानांतरित हुए और उन्होंने नयी टिहरी,ऋषिकेश तथा देहरादून में आकर अपना आशियाना बनाया |

टिहरी बाँध


टिहरी बाँध में भागीरथी तथा भिलंगना नदियों का संगम होता है ,पहले यहाँ पर तीन नदियों का संगम हुआ करता था | तीसरी नदी का नाम घृतगंगा था किन्तु बाद में घृतगंगा लुप्त हो गयी और अब वर्तमान में यहाँ केवल भागीरथी और भिलंगना का संगम होता है | इन दोनों नदियों का संगम गणेशप्रयाग कहलाता है | भागीरथी तथा भिलंगना के संगम को त्रिहरी तथा धनुषतीर्थ के नाम से भी जाना जाता है |

टिहरी बाँध परियोजना में 2400 मेगा वाट का विधुत उत्पादन किया जाता है तथा इस बाँध के पानी से 1,70,000 हेक्टयेर क्षेत्र की सिंचाई की जाती है | टिहरी बाँध परियोजना पर 75% केंद्र सरकार तथा 25% राज्य सरकार के द्वारा धन व्यय किया गया है |

Tehri Dam

Water Sports in Tehri Dam (साहसिक खेल)

टिहरी बाँध विधुत परियोजना होने के साथ साथ विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल भी है  तथा उत्तराखंड के पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए टिहरी बाँध पर साहसिक खेलों का आयोजन भी किया जाता है | वैसे तो यह झील प्राकृतिक सौन्दर्य से परिपूर्ण है तथा यहाँ की सुन्दरता पर्यटकों को खूब भाती है, किन्तु टिहरी झील में होने वाले water sports पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित कर रहे हैं |

पहले साहसिक खेलों के नाम पर लोगों के पास बहुत ही सीमित विकल्प थे,और लोग साहसिक गतिविधियों की तलाश में राज्य के बाहर अपना विकल्प देखते थे,किन्तु टिहरी झील में साहसिक गतिविधियाँ प्रारंभ होने की बजह से लोगों को  कहीं बहार जाने की आवश्यकता नहीं है |

टिहरी झील पर होने वाले साहसिक गतिविधियों की सूचि-

  • पैराग्लाइडिंग
  • नौका विहार
  • बनाना वोट सवारी
  • जेट स्पीड वोट सवारी
  • वाटर स्कीइंग
  • हॉटडॉग सवारी

यात्रा करने का सही समय –

टिहरी झील जाने का सर्वोत्तम समय ग्रीष्मकाल में अप्रैल से जून तक है | इस समय टिहरी झील के प्राक्रतिक सौन्दर्य के साथ साथ आप झील में होने वाले साहसिक गतिविधियों का हिस्सा भी बन सकते हैं |

How to Reach Tehri Dam ?

टिहरी बाँध उत्तराखंड के सभी मुख्य शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है | यदि आप टिहरी बाँध घूमने का प्लान बना रहे हैं तो आपको यहाँ पहुँचने में कोई भी परेशानी नहीं होने वाली है, आप बिना मुश्किलों के टिहरी बाँध पहुच सकते हैं |   

By Road :

उत्तराखंड के सभी मुख्य शहरों से टिहरी बाँध सड़कों द्वारा अच्छी तरह जुड़ा हुआ है | स्थानीय बसों , टैक्सी तथा स्वम् के वाहन द्वारा आप  टिहरी बाँध आसानी से पहुँच सकते हैं |

By Train :

टिहरी बाँध पहुचने के लिए निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश में है | ऋषिकेश से टिहरी बाँध की दूरी लगभग 84 किलोमीटर है | ऋषिकेश पहुँचने के बाद पहाड़ी मार्गो से होते हुए टिहरी बाँध के लिए आपको स्थानीय बसों या फिर टैक्सी से जाना होगा |

By Air :

निकटतम हवाई अड्डा “जौलीग्रांट हवाई अड्डा” है जिसकी दूरी न्यू टिहरी से लगभग 91 किलोमीटर है | इसके बाद पहाड़ी मार्गो से होते हुए टिहरी बाँध के लिए आपको स्थानीय बसों या फिर टैक्सी से जाना होगा |

Google Map for Tehri Dam



उम्मीद करते हैं कि “उत्तराखंड सामान्यज्ञान” की यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी | यदि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई तो हमसे जुड़े रहने के लिए हमारे Facebook पजे को Like कीजिये|

Facebook Page Link

यदि आप उत्तराखंड की मनमोहक तस्वीरें देखना चाहते हैं तो उत्तराखंड सामान्य ज्ञान के instagram पेज को Follow कीजिये |

Instagram Link

धन्यवाद

 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां